Aman Samachar
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़महाराष्ट्र

पोखरण 2 में हजार बेड की कोविड अस्पताल शीघ्र नहीं नहीं करने पर मनसे ने दी आन्दोलन की चेतावनी

ठाणे [ युनिस खान ]  दिसंबर – जनवरी में दूसरी लाट आने की आशंका के चलते पोखरण दो में एक हजार बेड की कोविड अस्पताल के लिए निविदा निकालने के बाद 10 करोड़ रूपये की वृद्धि करने के छः माह बाद काम शुरू नहीं हुआ है।  इस आशय की जानकारी देते हुए मनसे जनहित व विधि विभाग के ठाणे शहर अध्यक्ष स्वप्निल महिन्द्रकर ने कोविड अस्पताल शीघ्र शुरू करने की मांग किया है।

                      उन्होंने कहा है कि नगर विकास मंत्री व ठाणे जिले के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने 25 जून 2020 को पोखरण रोड 2 वोल्टास कंपनी की जगह में एक हजार बेड की कोविड अस्पताल बनाने की घोषणा किया था। सिडको के माध्यम से उक्त कोविड अस्पताल बनाया जाने वाला था। इस अस्पताल में आक्सीजन बेड ,नान आक्सीजन बेड ,डायलिसिस सेंटर ,आयसीयु बेड , वेंटिलेटर आदि की सुविधा उपलब्ध करायी जाने वाली थी। इसके लिए अगस्त 2020 में निविदा जारी की गयी।  12 करोड़ रूपये की अनुमानित लागत 23 करोड़ रूपये पहुँच गया है इसके बावजूद काम शुरू नहीं हुआ। दो माह में शुरू होने वाली कोविड अस्पताल छः माह बीतने के बाद भी वेंटिलेटर पर ही है। इससे प्रशासन व सिडको प्रबंधन की उदासीनता सामने आ रही है। प्रतिदिन करीब एक हजार कोनोना के नए मरीज आने से निजी अस्पतालों के बेड फुल हो गए हैं जिससे नए मरीजों को बेड मिलने की समस्या उत्पन्न होने वाली है। महिन्द्रकर ने कहा है कि पोखरण 2 की अस्पताल शीघ्र शुरू कराने की प्रक्रिया शुरू की जाए जिससे आने वाले कोरोना मरीजों को बेड व दवा उपचार के आभाव में अपना जान गवांना न पड़े।  उन्होंने कहा है की अपने नागरिकों को कोरोना उपचार के लिए शीघ्र उक्त अस्पताल शुरू नहीं कराया गया तो मनसे तीव्र आन्दोलन करेगी।

संबंधित पोस्ट

घोडबंदर रोड इलाके की पानी समस्या को लेकर भाजपा आन्दोलन तेज करेगी 

Aman Samachar

शिक्षकों की मांगों को लेकर संगठन ने दिया मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव को निवेदन 

Aman Samachar

कश्मीरी महिला में धड़कता है तमिल का दिल , हृदय प्रत्यारोपण के लिए फंडिंग के लिए आगे आई ऐश्वर्या ट्रस्ट 

Aman Samachar

महिला के गले से सोने की चैन झटककर मोटर सायकिल सवार चम्पत 

Aman Samachar

महुआ फूलों से बने पौष्टिक लड्डू, बिस्कुट स्कूल के पोषण आहार में शामिल  करें –  एकनाथ शिंदे

Aman Samachar

गुणवत्तापूर्ण कार्य न करने वालों के खिलाफ अपर्धिक मामला व काली सूची में डालने की चेतावनी  

Aman Samachar
error: Content is protected !!