Aman Samachar
ब्रेकिंग न्यूज़
कारोबारब्रेकिंग न्यूज़

आरबीआई की मौद्रिक नीति पर पीएनबी के प्रबंध निदेशक सीएच एस एस मल्लिकार्जुना ऱाव के विचार

मुंबई [ अमन न्यूज नेटवर्क ] अर्थव्यवस्था में विकास के अनुमान को बरकरार रखा गया है और ग्राहक मूल्य सूचकांक (सीपीआई) मुद्रास्फीति को सुधार कर औचित्यपूर्ण कर दिया गया है। जैसा कि उम्मीद थी नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। तरलता के उपायों को क्रमिक व मापे गए तरीकों से खोलने के चलते मुद्रास्फीति को काबू में रखते हुए विकास को सहारा मिलेगा।

देश भर में आफलाइन तरीकों में रिटेल डिजिटल भुगतान के ढांचे की घोषणा, प्रति ट्रांजैक्शन की सीमा आईएमपीएस में दो लाख रुपये बढ़ाकर पांच लाख रुपये करना, सभी भौतिक भुगतान की स्वीकृति के आधारभूत ढांचे की जियो टैगिंग वित्तीय समावेशन में मदद करेंगे और यह डिजिटल वित्तीय ढांचे के निर्माण की यात्रा की ओर एक और कदम है।

गैर वित्तीय संस्थानों (एनबीएफसी) को प्राथमिकता क्षेत्र के ऋणों के लिए बैंकों की ओर दिए जाने वाले कर्ज की अवधि 6 महीनों के लिए बढ़ाते हुए 31 मार्च, 2022 तक करने से ऋण प्रवाह बढ़ेगा और जमीनी स्तर तक विकास को सहारा मिलेगा।

संबंधित पोस्ट

पिलर से छेड़खानी कर बिजली चोरी करने वाले के खिलाफ मामला दर्ज

Aman Samachar

‘रामचरित मानस की अंतर्कथाएं’ का सांसद के हाथो हुआ विमोचन

Aman Samachar

सिड्को की तर्ज पर जेएनपीटी प्रकल्पग्रस्तों को न्याय व नवी मुंबई के निवासियों को सेवा शुल्क में छूट –  एकनाथ शिंदे

Aman Samachar

नाट्य गृह व सांस्कृतिक कार्यक्रम से जुड़े जरूरतमंद लोगों को राशन व जीवन आवश्यक वस्तुएं वितरित 

Aman Samachar

रिपब्लिक भारत चैनल का संपादक अर्नब गोस्वामी आत्महत्या के लिए मजबूर करने के मामले गिरफ्तार

Aman Samachar

कोरोना की तीसरी लहर आने पहले कोविड वाररूम को अधिक सक्षम बनाने का मनपा आयुक्त ने दिया आदेश 

Aman Samachar
error: Content is protected !!