Aman Samachar
ब्रेकिंग न्यूज़
स्वास्थ्य

रक्त के आभाव में तबाह होने वाली जिंदगियों को ब्लड डॉट लाइव ऐप से मिलेगा जीवनदान

भिवंडी [ एम हुसेन ] रक्तदान महादान माना व कहा जाता है, किसी का एक यूनिट रक्त किसी की जिंदगी बचा सकता है,इसके बावजूद एक सत्य यह भी है कि देश में सैकड़ों जिंदगियां रक्त की कमी के कारण चली जाती हैं। इसी संकट को ध्यान में रखते हुए भारत हेल्थकेयर ने ब्लड डॉट लाइव के नाम से अनूठी पहल की है। यह रियल टाइम काम करने वाला एक निशुल्क एप है, जिसकी सहायता से रक्तदान करने वाले लोग और जरूरतमंद लोगों से संपर्क कर सकेंगे।
        ब्लड डॉट लाइव एप भारत हेल्थकेयर ने घरेलू स्तर पर विकसित नए तंत्र का उपयोग  किया है। इसका उद्देश्य सभी जरूरतमंदों के लिए सुरक्षित रक्त उपलब्ध कराना, रक्तदान के लिए नेटवर्क बनाना, तत्काल जरूरत पड़ने पर रक्त उपलब्ध कराना है।उल्लेखनीय है कि  भारत 135 करोड़ की आबादी वाला देश है आंकड़े बताते हैं कि यहां उपलब्ध रक्त की तुलना में मांग 400 प्रतिशत अधिक है। यहां जरूरत से 4 करोड़ यूनिट कम खून विभिन्न ब्लड बैंक में उपलब्ध है। देश में प्रति वर्ष लगभग 6 करोड़ सर्जरी होती है। रोजाना 1,200 सड़क दुर्घटनाएं होती हैं। लाखों बड़े ऑपरेशन, कीमोथेरेपी आदि जैसे कैंसर के उपचार  और प्रजनन से जुड़ी दिक्कतों में रक्त  की जरूरत पड़ती है।
           ग्रुप के फाउंडर चेयरमैन डॉ. कोटी रेड्डी सरीपल्ली ने कहा, “इनोवेशन से हमारा गहरा नाता है। हम कृषि, कंस्ट्रक्शन, शिक्षा, फाइनेंस, स्वास्थ्य, मीडिया समेत विभिन्न क्षेत्रों में टेक्नोलॉजी की सहायता  से दुनियाभर की लगभग  8 अरब आबादी को सशक्त करने के लक्ष्य पर काम कर रहे हैं। शोध के दौरान हमें अनुभव हुआ कि देश में रक्त  की कमी की बडी समस्या है। इस समस्या का समाधान  करने के लिए हमने यह एप लॉन्च किया है।
       एप में आपके परिवार, दोस्तों एवं परिचितों के ब्लड ग्रुप की मैपिंग करते हुए एक सुरक्षित ब्लड नेटवर्क बनाया जाता है। उन्होंने लोगों से इस निशुल्क पहल से जुड़ने और रक्तदान कर लोगों का जीवन बचाने के अभियान  में शामिल होने की अपील की है ।
    ब्लड डॉट लाइव में सभी का डाटा गोपनीय रखा जाता है, इसकी सहायता  से अपनी पहचान उजागर किए बिना भी रक्तदान किया जा सकता है। ब्लड डॉट लाइव के सीईओ पृध्वी मात्सा ने कहा कि, “लोगों का जीवन बचाने से बेहतर कोई काम नहीं हो सकता है।” भारत हेल्थकेयर के सीईओ डॉ. श्रीजा रेड्डी सरीपल्ली ने सभी भेदभावों से ऊपर उठकर मानवता के लिए काम करने कीअपील की है ।

संबंधित पोस्ट

भारत में सबसे लंबे ईसीएमओ सरवाइवर को मेडिका हॉस्पिटल ने दिया नया जीवन 

Aman Samachar

 विश्व दृष्टि दिवस के अवसर पर हम अपनी आँखों की सेहत को प्राथमिकता दें – डॉ. अग्रवाल्स आई हॉस्पिटल

Aman Samachar

मिनिमल इनवेसिव कार्डियक सर्जरी के लिए प्राथमिकता बढ़ रही – डॉ मंगेश कोहले

Aman Samachar

दांत हो रहे हैं खराब तो अब आपको घर बैठे डॉक्टर्स बताएंगे उपचार, बस करना होगा यह काम

Admin

हफ्ते के आखिरी दिन गिरावट के साथ खुले शेयर बाजार, RIL और HDFC के शेयर टूटे

Admin

 मेडिका में ईसीएमओ में 45 दिनों के बाद मरीज स्वास्थ्य होकर टोरंटो लौटने के लिए तैयार 

Aman Samachar
error: Content is protected !!