Aman Samachar
ब्रेकिंग न्यूज़
अन्यखास खबर

मेट्रो कारशेड के लिए कांजूर मार्ग में शासन की मुफ्त जमीन , आरे आन्दोलनकारियों पर दर्ज मुकदमें होंगे वापस – मुख्यमंत्री

  मुंबई [ युनिस खान ] पर्यवरण को क्षति पहुँचाने वाली प्रगति मंजूर नहीं है आरे में बनने वाले मेट्रो कारशेड के लिए कांजुरमार्ग में शासकीय जमीन पर बनाने का सरकार ने निर्णय लिया है। इसकी घोषणा आज मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने किया है। उक्त जमीन कार शेड के लिए मुफ्त में ली गयी है। उन्होंने स्पस्ट किया है कि जमीन खरीदी पर शासन एक पैसा खर्च नहीं कर रही है। आरे बचाओं आन्दोलन में शामिल लोगों पर दर्ज मामले वापस लिए जायेंगे।
मुख्यमंत्री ठाकरे आज आन लाईन माध्यम से राज्य की जनता से संवाद किये। इस दौरान उन्होंने कहा कि मेट्रो 3 व 6 नंबर लाईन एकत्र करने से जनता का एक पैसा बर्बाद नहीं होगा। मुख्यमंत्री ठाकरे ने कांजूरमार्ग में कारशेड के लिए मुफ्त जमीन उपलब्ध कराने के लिए उप मुख्यमंत्री अजीत पवार , राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात ,नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ,पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ,पशुसंवर्धन मंत्री सुनील केदार व प्रशासकीय अधिकारीयों के सहयोग का उल्लेख किया है।  आरे के 800 एकड़ जंगल आरक्षित घोषित करने का निर्णय लिया गया है। ऐसा करते हुए वहां स्थित आदिवासी पाडों के नागरिकों व ताबेलों के अस्तित्व को नुक्सान पहुंचाए बगैर संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान से लगे वन शासन ने आरक्षित जंगल घोषित करने का निर्णय लेने की घोषणा मुख्यमंत्री ठाकरे ने की है। आरे में मेट्रो के लिए बनी इमारत का दुसरे कार्यों में किया जायेगा। जससे उसके लिए खर्च की गयी निधि बेकार नहीं जायेगी। उन्होंने पर्यावरण के ध्यान में रखते हुए किये गए इस कार्य को ऐतिहासिक बताया है।

संबंधित पोस्ट

उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने के इच्छुक विद्यार्थियों के लिए वाक् इन टीकाकरण आज से शुरू

Aman Samachar

महाकालेश्वर कारीडोर को साकार करने वाले मुख्य वास्तु विशारद  कृष्ण मुरारी शर्मा का किया गया सत्कार 

Aman Samachar

शिवसेना सहकार विभाग के ठाणे जिलाध्यक्ष समेत कई कार्यकर्ता भाजपा में शामिल

Aman Samachar

संविधान निर्माता डा बाबासाहेब आंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस उनका किया अभिवादन

Aman Samachar

Mass graves dug in Iran for coronavirus victims visible from space: Report

Admin

देश की पहली रेल 1853 में मुंबई से ठाणे रेलवे स्टेशन बीच चली , फिर भी ठाणे रेलवे स्टेशन को ऐतिहासिक दर्जा नहीं

Aman Samachar
error: Content is protected !!