Aman Samachar
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़महाराष्ट्र

गरीबों की मदद करने वालों के चलते इंसानियत अभी भी जिन्दा है , बूट पालिस करने वाले की भावना

ठाणे [ युनिस खान ] कोरोना काल में गरीबो व जरूरतमंद लोगों के आंसू पोछने के लिए निःस्वार्थ सेवा करने का नाम है विधायक संजय केलकर , इस आशय की भावना व्यक्त करते हुए रेलवे स्टेशन पर बूट पालिस  कर अपना उदरनिर्वाह करने वाले सुरेन्द्र सकट ने व्यक्त किया है। सुरेन्द्र और उसके अनेक साथी ठाणे रेलवे स्टेशन पर बूट पालिस का कम करते हैं। 
                    कोरोना और लाक डाउन से करीब एक वर्ष से बूट पालिस करने वाले व्यवसायी परेशान हैं।  जब ट्रेनों से यात्रा करने वाले लोगों की संख्या घट गयी तो उनके धंधे प्रभावित होना स्वाभाविक ही है।  कोरोना काल में सभी क्षेत्रों पर विपरीत प्रभाव पड़ा है। कोरोना उत्पन्न आर्थिक संकट व बेरोजगारी हर क्षेत्र लोगों की कमर तोड़ दिया है। इसी तरह परेशान बूट पालिस करने वाले सुरेन्द्र का कहना है हम बूट पालिस करने वाले गरीबों पर गत आठ माह से कोरोना का कहर बरपा है। हम जैसे लोगों के सामने भुखमरी जैसा संकट आया। ऐसे समय में कोई हमारी मदद के लिए आया तो वह विधायक केलकर ही हैं।  हम उनके मतदाता भी   नहीं है लेकिन वे हम बूट पालिस करने वाले लोगों के प्रमुख सल्लागार होने की वजह से हमेशा मदद करते हैं।  वह भगवान् तो नहीं इंसान हैं लेकिन हमारे लिए भगवान् से कम भी नहीं है। वे हम बूट पालिस करने वाले गरीब परिवारों को आर्थिक मदद व राशन उपलब्ध करने का काम करते रहे हैं। हमारे जनप्रतिनिधि और राजनेता इसी तरह गरीबों व जरुरतमंदों की मदद करने लगे तो शायद गरीबों की कोई समस्या नहीं होगी। विधायक केलकर  के सेवाभावी कार्यों को देखने से लगता है कि इंसानियत अभी भी जिन्दा है।
Attachments area

संबंधित पोस्ट

मैनेजर के खिलाफ मालिक ने कराया पौने दो करोड़ रूपये की धोखाधड़ी का मामला दर्ज

Aman Samachar

कमिंस इंडिया ने ‘डायवर्सिटी एंड इन्क्लूज़न पार्टनर’ व  ‘आउटस्टैंडिंग प्रोफेशनल डेवलपमेंट इवेंट’ अवॉर्ड्स जीते

Aman Samachar

भारत बंद का मिलाजुला असर , राकांपा ने ट्रैक्टर व हल लेकर जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष किसानों के समर्थन में किया आन्दोलन

Aman Samachar

होंडा कार्स इंडिया ने आकर्षक फाइनेंस स्‍कीम्‍स के लिये आईडीबीआई बैंक के साथ किया समझौता 

Aman Samachar

आकाश BYJU’S के प्रभावशाली 62 छात्रों ने गणित (IOQM) परीक्षा 2022-23 में भारतीय ओलंपियाड क्वालीफायर करके INMO के लिए हुए पात्र 

Aman Samachar

राष्ट्रीय पोषण मिशन में कम करने वाली मामूली महिला नहीं बल्कि योद्धा हैं- समीर वानखेड़े

Aman Samachar
error: Content is protected !!