Aman Samachar
ब्रेकिंग न्यूज़
महाराष्ट्र

30 वर्ष पुरानी इमारतों का स्ट्रक्चरल आडिट करके 31 दिसंबर तक प्रमाणपत्र पेश करने पर होगी दंडात्मक कार्रवाई

नवी मुंबई [ युनिस खान ] मनपा क्षेत्र की इमारतों का वर्ष 2020 – 2021 के लिए    सर्वे कर 457 इमारतों को धोखादायक घोषित कर दिया है।  मनपा 30 वर्ष से पुरानी सभी इमारतों का स्ट्रक्चरल आडिट कराके 31 दिसंबर तक रिपोर्ट पेश करने का आवाहन किया है।

           मनपा क्षेत्र की जिन इमारतों का उपयोग शुरू हुए 30 वर्ष से अधिक समय हो गया है ऐसी     सभी इमारतों का नवी मुंबई मनपा में पंजीकृत निर्माण कार्य अभियंता या संरचना अभियंता से स्ट्रक्चरल आडिट कराना अनिवार्य है।  30 वर्ष पुरानी इमारतों का संरचना अभियंता द्वारा सुझाये गए मरम्मत कार्य पूरा कराके व निर्माण सुस्थिति में होने का प्रमाणपत्र मनपा में पेश करना है। इमारतों का आडिट कराने में टाल मटोल करने वाले मालिक व संस्था से 25 हजार रुपये या वार्षिक संपत्ति में जो राशि अधिक होगी उतना दंड वसूल किया जाएगा। नवी मुंबई मनपा ने स्ट्रक्चरल आडिटर की सूची मनपा की वेबसाईट पर उपलब्ध करायी गयी  है।  30 वर्ष पुरानी सभी  इमारतों का स्ट्रक्चरल आडिट कराके 31 दिसंबर 2020 तक संबंधित विभाग के सहायक आयुक्त ,विभाग अधिकारी व सहायक संचालक नगर रचना , नवी मुंबई मनपा के समक्ष पेश करना है। मनपा की ओर से कहा गया है की धोखादायक व घर का उपयोग करने से जन व वित्त हानि की आशंका बनी रहती है। जिसके चलते ऐसी इमारत व घर का उपयोग न करें .मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर की ओर से इस आशय  आवाहन किया गया है। धोखादायक इमारत का उपयोग करने पर किसी प्रकार की दुर्घटना होने संबंधित व्यक्ति व संस्था की जिम्मेदारी होगी।

संबंधित पोस्ट

वरिष्ठ नागरिकों के लिए ड्राइवइन टीकाकरण केंद्र विवियाना मॉल की पार्किंग में दो दिनों में होगा शुरू 

Aman Samachar

विद्यार्थियों को बिगाड़ने वाला नहीं बल्कि बनाने वाला गुरुजी चाहिए – डा जितेन्द्र आव्हाड 

Aman Samachar

ग्रैंड सेंट्रल पार्क युवाओं और बूढ़ों के लिए आनंददायक साबित होगा – एकनाथ शिंदे 

Aman Samachar

घोडबंदर रोड में धड़ल्ले से चलने वाले हुक्का पार्लर व अनधिकृत लाज के खिलाफ कार्रवाई की मांग

Aman Samachar

ईद ए मिलादुन्नवी के त्यौहार की तैयारी में मुस्लिम समाज के लोग

Aman Samachar

शादी विवाह में होने वाले अकूत खर्च और रात्रिभोज रोकने की पहल 

Aman Samachar
error: Content is protected !!