Aman Samachar
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़महाराष्ट्र

ठेकेदार द्वारा पुरानी पाईप डालने के मामले की जांच करने की विरोधी नेता ने की जांच की मांग

ठाणे [ युनिस खान ] कल्याण फाटा से दिवा प्रभाग समिति व मुंब्रा प्रभाग समिति  क्षेत्र में पुरानी पाईप लाईन डालकर एमकेई इन्फ्रा व जस्मीन कंस्ट्रक्शन कंपनी ने मनपा से आठ करोड़ रूपये लिया है।  इन कंपनियों को शहर के अन्य इलाकों में करीब 800 करोड़ रूपये का ठेका दिए जाने का  खुलाशा मनपा में विरोधी पक्षनेता अशरफ शानू पठान ने किया है। उन्होंने मनपा आयुक्त डा विपिन शर्मा व महापौर नरेश म्हस्के से तत्काल जांच कर कार्रवाई की मांग किया है।

           उन्होंने कहा है कि मनपा की ओर से जीर्ण हो चुकी पानी की पाईप लाईन बदलने का काम मनपा की ओर से शुरू करने का ठेका एमकेई इन्फ्रा व जस्मीन कंपनी को दिया गया। इस दोनों कंपनियों की ओर से घटिया दर्जे की सामग्री  उपयोग करने की शिकायत विरोधी पक्षनेता पठान को मिली। जिसे गंभीरता  लेते हुए आज सुबह 8 पठान ने कल्याण फाटा जाकर निरिक्षण किया। निरिक्षण करने के दौरान उन्होंने पाया कि वहां बिछाई गयी पाईप पुरानी हैं। पाईप पर वर्ष 2010 का उल्लेख है जिसे 30 रूपये किलो की दर से   खरीदकर ठेकेदार ने मनपा को ठगा है। पठान ने कहा कि मनपा अधिकारीयों ने उक्त कार्य की अनदेखी कर भ्रष्टाचार करने का अवसर दिया है। पठान ने कहा है कि मनपा के पैसों  की ठेकेदारों द्वारा किस तरह बंदरबाट किया जा रहा है यह उजागर हो रहा है। ठेकेदार और कुछ अधिकारी मिलकर भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रहे है। पठान ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए प्रकरण की जांच कराने की मांग किया है। उन्होंने  यह भी कहा है कि ठेकेदार की ओर   सबूत नष्ट करने का प्रयास किया जा सकता है। जिसके चलते इस मामले की तत्काल मनपा आयुक्त डा विपिन शर्मा और महापौर नरेश म्हस्के निरिक्षण कर संबंधित अधिकारीयों को निलंवित करने की कार्रवाई करें।  उन्होंने कहा है कि एमकेई इन्फ्रा और जस्मीन कंस्ट्रक्शन कंपनी को दिए शहर के करीब 200 करोड़ रूपये के ठेके की जांच कर उसे मनपा की काली सूची में डालने की कार्रवाई करें।  उन्होंने कहा है कि गत कुछ दिनों में पाईप फूटने की अनेक घटनाएं सामने आई हैं जिसमें हजारों लीटर पानी बर्बाद होता है।  पानी की पाईप फूटने से मुंब्रा , कौसा , दिवा , कलवा आदि इलाकों में चार चार दिन जलापूर्ति ठप्प हुई थी।  पानी की पाईप फूटने के पीछे घटिया दर्जे की पाईप ही कारन है। पहली नजर में यही जानकारी सामने   आई है।  मनपा को इस मुद्दे को गंभीरता से   लेने की आवश्यकता है।

संबंधित पोस्ट

धर्मवीर आनंद दीघे का स्मारक बनाने का भाजपा नगर सेवक ने की मांग 

Aman Samachar

स्तन की खुद जांच करने से स्तन कैंसर से मृत्यु दर 30-40% तक हो सकती है कम

Aman Samachar

पर्यावरण पूरक इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या बढाने का शासन स्तर पर प्रयास – उद्योगमंत्री

Aman Samachar

नगर विकास मंत्री के गृह क्षेत्र के अनेक शिवसेना पदाधिकारी व कार्यकर्ता शिवसेना में शामिल

Aman Samachar

दिवा में कांग्रेस के आरोग्य शिबिर का नागरिकों ने उठाया लाभ 

Aman Samachar

सतर्कता प्रबंधन को लेकर उठाए कदमों पर सीवीसी ने पीएनबी की प्रशंसा की

Aman Samachar
error: Content is protected !!